Tuesday, May 3, 2011

Dil ko hazaar bar - Murder

I have recently got a comment from Kumar regarding the below mentioned song. He has mentioned that the song "Dil ko hazaar baar" from the 2004 movie Murder is a copy from "Quizas: In the Mood for Love". However, I think, and as posted below, this song has been lifted by Anu Malik from the traditional hebrew tune of Majel Tov.
You can listen to both and decide for yourself.


Original for "Dil ko hazaar bar - Murder"

Mazel tov 

Dil ko hazaar bar - Murder (2004)

Song
Dil ko hazaar baar
Film and year
Murder (2004)
Music Director (s)
Anu Malik
Film Director
Anurag Basu
Film Producer
Mahesh Bhatt
Singer (s)
Alisha Chinoy
On whom filmed
Kashmira Shah, Mallika Sherawat and Ashmit Patel
Distributors
Vishesh Films
Original song
Traditional Hebrew Song Mazel Tov

6 comments:

  1. Submit your blog into http://hamarivani.com.

    Hamarivani is an Indian Blogs Aggregator.

    ReplyDelete
  2. My Dear Shah Nawaaz, I have already submitted my blog in HamariVani long back ... unfortunately it is not updated there ...

    ReplyDelete
  3. यह पहली बार है कि चोरी के पुख़्ता सबूत नहीं मिल पा रहे हैं. अनु मलिक को बाइज़्ज़त बरी कर दीजिए, प्लीज़.

    ReplyDelete
  4. Indranil भट्टाचार्जी जी,

    आपने अपने ब्लॉग "जज़्बात, ज़िन्दगी और मैं" का क्लिक कोड ही अपने दुसरे ब्लॉग "Copycats" पर लगाया हुआ है. हमारीवाणी पर हर ब्लॉग के लिए अलग क्लिक कोड है. आपसे अनुरोध है की कृपया हमारीवाणी पर लोगिन करके ऊपर, दाई और लिखे "झट से यहाँ पोस्ट लाने के लिए फट से क्लिक कोड अपने ब्लॉग पर लगाएं (पहले लोगिन करें)" पर क्लिक करें, इसके बाद खुलने वाले प्रष्ट पर आपको अपने सभी ब्लोग्स के लिए क्लिक कोड दिखाई देंगे. इसके अतिरिक्त जब भी नई पोस्ट लिखे तब तुरंत ही अपने ब्लॉग पर लगे हमारीवाणी लोगो पर अवश्य क्लिक करें, इससे आपकी पोस्ट तुरंत ही हमारीवाणी पर प्रकाशित हो जाएगी.

    धन्यवाद!
    टीम हमारीवाणी

    ReplyDelete
  5. Hamari Vani team,
    Thanks for the instructions. I have changed the click code. I hope now my posts will be updated regularly. I had no idea that you kept separate codes for separate blogs from the same profile. Hence the mistake. However, it has been a beneficial correspondence with you since the mistake has been discovered.

    ReplyDelete
  6. @ भूषण जी,
    मैं बरी करने वाला होता कौन हूँ ... खैर, आप अगर गौर से सुनेंगे तो आप पाएंगे कि दोनों का सुर एक जैसा है बस मूल संगीत का टेम्पो ज्यादा तेज है और अनु मालिक ने उसे ही ज़रा धीरे कर दिया है ...

    ReplyDelete

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...